हिन्दुओं के साथ कपट युद्ध जारी- मोहन भागवत

हिन्दुओं के साथ कपट युद्ध जारी- मोहन भागवत

232
0
SHARE

 

प्रयागराज कुंभ में गुरुवार से शुरू हुए विश्व हिंदू परिषद् के धर्म संसद में केरल के सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश का मुद्दा उठा. संसद में यह प्रस्ताव पास हुआ कि सबरीमाला मुद्दे को अयोध्या आन्दोलन की तरफ उठाया जाएगा. विहिप की धर्म संसद में पहुंचे आरएसएस चीफ मोहन भागवत ने सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को करोड़ों हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला बताया.संतों के अयोध्या कूच पर बोले मुस्लिम पक्षकार- कांग्रेस के इशारे पर फिजा खराब करने की कोशिशधर्म संसद में बोलते हुए भागवत ने कहा कि करोड़ों हिन्दुओं की भावनाओं के साथ खेला जा रहा है. कुछ राजनैतिक दल वोट की सियासत की वजह से हिंदुओं के साथ कपट युद्ध कर रहे हैं. हमें हिंदुओ को जागरूक करना होगा. भागवत ने कहा, ”कोर्ट ने कहा महिला अगर प्रवेश चाहती है तो करने देना चाहिए, अगर किसी को रोका जाता है तो उसको सुरक्षा देकर जहां से दर्शन करते हैं वहां ले जाना चाहिए. लेकिन कोई जाना ही नहीं चाह रहा है. इसलिए श्रीलंका से लाकर लोगों को पीछे के दरवाजे से घुसाया जा रहा है.

भागवत ने कहा कि सबरीमाला प्रकरण में कोर्ट के फैसले में हिंदुओ की भावनाओं का सम्मान नहीं किया गया, जिसकी वजह से हिंदू आंदोलित हो रहा है. उन्होंने कहा कि सबरीमाला के मुद्दे पर फैसला देते हुए कोर्ट ने करोड़ों हिंदुओं की भावनाओं का विचार नहीं किया. उन्होंने कहा कि भगवान अयप्पा के चार मंदिर हैं, सिर्फ एक ही ब्रह्मचर्य रूप में है. महिला का प्रवेश न करना वहां की परंपरा है.

राहुल गांधी के गढ़ अमेठी के दो युवाओं को Twitter पर फॉलो कर रहे हैं

धर्म संसद में मोहन भागवत ने कहा कि सबरीमाला सिर्फ मलयालम भाषी के भगवान नहीं हैं. पूरा हिंदू समाज उनके साथ है. सुप्रीम कोर्ट ने हिंदुओं की आस्था का ध्यान नहीं रखा. षड्यंत्र के तहत समाज को बांटा जा रहा है कपट युद्ध लड़ा जा रहा है. वोटो की राजनीति हो रही है, महाराष्ट्र का आंदोलन गवाह है. राजनीति करने वाले समझ लें कि आंबेडकर के अनुयायी हम भी हैं. हिंदुओं को चेतना होगा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY