राहुल गांधी के गढ़ अमेठी में युवा चेहरों को मिली जिम्मेदारी, हुआ...

राहुल गांधी के गढ़ अमेठी में युवा चेहरों को मिली जिम्मेदारी, हुआ बड़ा बदलाव

387
0
SHARE
amethi congress

आगामी लोकसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी की नजर यूपी की हारी सीटों को जीतने पर होगी. इसमें सबसे वीआईपी सीट कांग्रेस का गढ़ और राहुल गांधी का संसदीय क्षेत्र अमेठी है जिसे जीतने के लिए भाजपा ने अपना पूरा दमखम लगा दिया है. कांग्रेस भी अपने इस अपने सबसे बड़े गढ़ को बचाने के लिए पूरी ताकत झोंके हुए है. इसके तहत जिला संगठन में लगातार बदलाव किया जा रहा है. इसी क्रम में कांग्रेस के गढ़ अमेठी के जिला संगठन में लोकसभा चुनाव के तहत बड़ा बदलाव किया गया है.

जिला संगठन में हुआ बदलाव :

लोकसभा चुनावों को देखते हुए कांग्रेस ने अमेठी में बड़ा फेरबदल किया है. इसके तहत शेषनाथ सिंह समेत 6 लोगों को जिला महासचिव बनाया गया है. पूरे बदलाव में पार्टी ने युवा चेहरों को प्राथमिकता दी है. 2019 के लोकसभा चुनाव के पहले कांग्रेस कोई चूक करने के मूड में नहीं है.

चुनाव के पहले पुराने ऐसे कांग्रेसी नेताओं को पार्टी ने साधना शुरू कर दिया है. ये वो नेता है जो कभी कांग्रेस की रीढ़ माने जाते थे लेकिन बदलते समय के साथ या तो घर बैठ गए या फिर पार्टी से दूरी बना ली.

बीजेपी कर रही कोशिशें :

अमेठी का किला ढहाने के लिए बीजेपी लगातार कोशिशें कर रही है. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद इस पर अपनी नजरें लगाएं हुए हैं. अमित शाह खुद अमेठी और रायबरेली पर निगाह रखे हुए हैं. एक और जहाँ बीजेपी ने रायबरेली से एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह को अपनी तरफ लिया है. वहीँ केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी भी राहुल के गढ़ में सेंध लगाने की कोशिश कर रहीं हैं.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY