मारवाह स्टूडियो भारतीय हिन्दी सिनेमा के लिए मील का पत्थर साबित हुआ...

मारवाह स्टूडियो भारतीय हिन्दी सिनेमा के लिए मील का पत्थर साबित हुआ है: संदीप मारवाह

225
0
SHARE

नॉएडा के फिल्म सिटी में स्थित मारवाह स्टूडियो में आयोजित 12 वें ग्लोबल फिल्म फेस्टिवल का दूसरा दिन भी बेहद शानदार रहा। वर्षों से फिल्म, फैशन एवम् एकेडमी के क्षेत्र में मारवाह स्टूडियो भारतीय हिन्दी सिनेमा के लिए मील का पत्थर साबित हुआ है।
12 ग्लोबल फिल्म फेस्टिवल में राबू ऑक्टेवियन , विक्रम गोखले,सचिंद्र शर्मा, मीरा चोपड़ा, चार्ल्स थमसन,अशोक त्यागी,अनूप बोस और ICMEI के प्रेसीडेंट संदीप मारवाह सहित फिल्म जगत की कई जानी मानी हस्तियों ने अपनी गरिमामय उपस्थिति दर्ज कराई। कार्यक्रम की शुरुवात करते हुए आइसीएमईआई के प्रेसिडेंट एवम् मारवाह स्टूडियो के संस्थापक संदीप मारवाह ने कहा कि यह हमारे लिए बड़े ही हर्ष का विषय है कि हम 26 वर्षों से एकेडमी, 28 वर्षों से स्टूडियों सफलता पूर्वक चला रहे है और 30 वर्षों से फिल्म सिटी स्थापित हैं।
मारवाह स्टूडियो में 10 से भी अधिक अंतरराषट्रीय फिल्म फेस्टिवल का आयोजन किया जाता है। जिससे भारतीय फिल्म उद्योग को दुनियां में एक नई पहचान मिली है। इतना ही नहीं मारवाह स्टूडियो में पढ़ने वाले बच्चे आज भारत सहित दुनिया के अन्य देशों में जाकर भारत का नाम गर्व से ऊंचा कर रहें है। कार्यक्रम में शामिल हुए सभी अतिथियों ने कहा कि दिल्ली में फिल्म सिटी का पूरा श्रेय मारवाह जी को जाता है क्योंकि इतना भव्य आयोजन और देश विदेश के निर्देशकों को आमंत्रित करके उन्हें जोड़ने का कार्य और कोई नहीं कर सकता। इससे क्षेत्रीय कलाकारों को आगे बढ़ने का मौका मिलता है।
बाल दिवस के इस अवसर पर कार्यक्रम में चाचा नेहरू फोरम का पोस्टर भी रिलीज किया गया और उनके बच्चों के प्रति लगाव से प्रेरणा लेने की बात कही गई। 12 वें ग्लोबल फिल्म फेस्टिवल में भारत और रोमानिया के बीच संबंधों को मजबूत करने के लिए जल्द ही इंडो रोमानियन फोरम लॉन्च करने की बात भी की गई।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY