12वें फिल्म फेस्टिवल की अंतिम शाम बेहद रोमांचक रही जिसमें भारतीय फिल्म...

12वें फिल्म फेस्टिवल की अंतिम शाम बेहद रोमांचक रही जिसमें भारतीय फिल्म जगत के प्रतिष्ठित कलाकारों को मिल सम्मान

310
0
SHARE

नई दिल्ली/ सकारात्मक भारत आंदोलन दिनों-दिन जोर पकड़ता जा रहा है। दिल्ली के एशियाड विलेज में आरजेएस की 125वीं बैठक नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती पर श्रद्धांजलि देकर 26 जनवरी गणतंत्र दिवस का आगाज‌ किया गया।

आरजेएस राष्ट्र ‌प्रथम वंदेमातरम् पार्ट 3 कार्यक्रम का आयोजन आचार्य सुशील मुनि आश्रम डिफेंस कालोनी,नई दिल्ली में किया गया।इसमें देश की 23 पुण्यात्माओं के साथ-साथ आचार्य सुशील मुनि और हाल ही में दिवंगत रघुनाथ सिंह आर्य प्रधान को आरजेएस फैमिली ने श्रद्धांजलि दी और सकारात्मक पत्रकारिता पर चर्चा की।
पद्मश्री से सम्मानित डा.के.के.अग्रवाल, नोएडा फिल्मसिटी के संस्थापक संदीप मारवाह , दूरदर्शन के एंकर सुधांशु रंजन , आरजेएस आॅब्जर्वर दीप माथुर और सह-आयोजक सोमेन कोले ने आरजेएस स्टार अवार्ड्स 2020 प्रदान‌ किए।
गणतंत्र दिवस के इस भव्य समारोह का आयोजन राम जानकी संस्थान (आरजेएस )और तपसील जाति आदिवासी प्रकटन्न सैनिक कृषि विकास शिल्प केंद्र, हुगली(टी जे ए पी एस केबीएसके ), पश्चिम बंगाल द्वारा हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया (एचसीएफआई) के सहयोग से आचार्य सुशील मुनि आश्रम के हॉल और लॉन में 24 जनवरी 2020को आयोजित किया गया । आरजेएस के राष्ट्रीय संयोजक उदय कुमार मन्ना ने बताया कि गणतंत्र दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ आरजेएस स्टार मुनि इंटरनेशनल स्कूल और सिल्वर ओक पब्लिक स्कूल के गाए वंदे मातरम गीत से हुआ ।विश्व भारती योग संस्थान के संस्थापक आरजेएस स्टार योगी कवि प्रेम भाटिया द्वारा योगाभ्यास कराए जाने के बाद आरजेएस ‌फैमिली ने आचार्य सुशील मुनि ‌संग्रहालय में देवी-देवताओं के बीच 24 तीर्थंकरों का‌ दर्शन किया। फिर आश्रम के‌ हाॅल में एच सी एफ आई के हेल्थ एक्सपर्ट डॉक्टर के.के. कालरा और डॉक्टर अनिल कुमार ने गुणवत्ता और सुरक्षा प्राथमिक उपचार और पर्यावरण संरक्षण की जानकारी के साथ-साथ जीवन सुरक्षा के लिए सीपीआर का डेमोंस्ट्रेशन भी किया। एचसीएफआई के इस प्रशिक्षण की सभी ने सराहना की। आरजेएस ‌ आॅब्जर्वर दीप माथुर ने सात बैठकों के आयोजक बिहार के अजय कुमार को राष्ट्रीय आरजेएस स्टार घोषित किया और कहा कि जल्द ही उनका बिहार में अभिनंदन किया जाएगा।पश्चिम बंगाल से आए सकारात्मक भारत आंदोलन के प्रथम सहयोगी सोमेन कोले ने आगामी स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में रविवार,9 अगस्त 2020 को आरजेएस जयहिंद जयभारत पार्ट 4 दिल्ली में आयोजित करने की घोषणा की। वहीं अमित आजाद ने ‌कहा कि मैं भी इसका एक सदस्य हूं और टीम आरजेएस फैमिली सकारात्मक बैठकों के माध्यम से भारतीयों और शहीदों के सपनों का भारत-निर्माण ‌कर रही है। यहां दिवंगत आत्माओं का सम्मान कर प्रेरणा ली जाती है।23 दिवंगत पुण्यात्माओं के नाम पर अवार्ड्स एक उदाहरण है। श्री मन्ना ने बताया कि
*अलग-अलग प्रदेशों की 23 पुण्यात्माओं के नाम पर परिवारजनों ने आरजेएस स्टारों को शाॅल ओढ़ाकर,मोमेंटो और प्रशस्ति पत्र, अतिथियों की उपस्थिति में भेंट किए।इस तरह आरजेएस फैमिली के अंदर दो परिवारों के बीच आत्मीय संबंध बनाने की भेटकर्ताओं द्वारा अनूठी पहल की गई।*
स्व० श्री रामायण सिंह- श्रीमती लालमुनि देवी ,
भेंट कर्ता -श्रीअशोक कुमार ठाकुर,
स्व०श्री हीरालाल सैनी- श्रीमती भरतो देवी,भेंटकर्ता-चौ. इंद्रराज सिंह सैनी.
स्व० श्रीमती शोभा माथुर,भेंटकर्ता- श्री दीप माथुर.
स्व० श्री काशीनाथ कोले श्रीमती मीनोति कोले, भेंटकर्ता-श्री सोमेन कोले.
स्व० श्री पारस पाण्डेय,भेंटकर्ता-श्रीआशीष पांण्डेय.
स्व० श्रीमती विमला देवी,भेंटकर्ता- श्री जगबली सिंह.
पूर्व सैनिक स्व० चौधरी बलवंत सिंह नंबरदार ,भेंटकर्ता- डा.नरेंद्र टटेसर.
स्व० श्री भंवरलाल शर्मा- श्रीमती गीता देवी शर्मा,भेंटकर्ता- श्री अशोक शर्मा.
स्वर्गीय राम लुभाया भनोट,भेंटकर्ता- श्री सुनील भनोट.
स्व० राधाकिसन चौकसे , भेंटकर्ता-संजय‌ चौकसे. स्वतंत्रता सेनानी स्व० श्री कृष्ण लाल त्रेहण- श्रीमती लक्ष्मी देवी त्रेहण, भेंटकर्ता-श्री सुरेश त्रेहण.
स्व० मास्टर राम कुमार सहारण, भेंटकर्ता-श्री कपिल सहारण.
स्व० श्रीमती शांति भाटिया,
भेंटकर्ता- योगी-कवि प्रेम भाटिया‌.
स्व० श्री चंद्र सिंह प्रधान ,
भेंटकर्ता- श्री सुमित छिकारा.
गो सेवक स्व० श्री सतवीर आर्य,भेंटकर्ता- मुकेश कुमार.
शतकवीर स्व० श्री जेहल महतो, भेंटकर्ता- डा.सत्येंद्र सिंह-श्रीमती इंदु सिंह.
स्व० श्री लाल देव सिंह-श्रीमती छठी देवी, भेंटकर्ता- डा.अभय कुमार.
स्व० श्री दूजा सिंह-श्रीमती राजपति देवी,भेंटकर्ता-श्री अजय कुमार.
स्व० श्री पूर्ण चंद आर्य, भेंटकर्ता- श्री रामजग सिंह.
स्व० श्री सीताराम सिंह-श्रीमती राम झारो देवी ,भेंटकर्ता-श्रीमती जनक दुलारी देवी.
स्व० श्री पुन्नूलाल चौधरी,
भेंटकर्ता-श्री दुलेंद्र चौधरी.
स्व० श्री डेल सिंह पटले, भेंटकर्ता-श्री मनीष पटले.
स्व० श्री गायत्री देवी-श्री बिंदेश्वरी प्रसाद ,भेंटकर्ता-ध्रुव कुमार.
*प्रथम मेमोरियल आरजेएस स्टार अवॉर्ड्स 2020 प्राप्त करने वाले निम्नलिखित अवार्ड्डीज को डिजिटल पेमेंट से प्रोत्साहन राशि भेजी जा रही है।* आरजेएस स्टारों‌ के नाम इस प्रकार हैं——–
पत्रकार एस.एस. डोगरा,
पत्रकार विवेक अरोड़ा,
आरजेएस आकांक्षा,
आरजेएस मयंक राज ,
शिक्षक अजय कुमार.
पत्रकार चंद्रप्रकाश द्विवेदी,
आरजेएस स्टार शिक्षक- विद्यार्थी मुनि इंटरनेशनल स्कूल,
पत्रकार प्रांजल श्रीवास्तव,
पत्रकार आशीष पाण्डेय,
पत्रकार प्रखर वार्ष्णेय,
पत्रकार मुकेश भोगल,
पत्रकार शिव कुमार यादव,
पत्रकार विजय शर्मा,
पत्रकार संजीव चौहान,
पत्रकार ब्रह्मानंद झा,
शिक्षक विद्यार्थी- आइडियल एजुकेशन सेंटर,
पत्रकार अमरेंद्र मिश्रा,
शिक्षक- विद्यार्थी एम.जे.कपिलदेव उच्च विद्यालय,
पैक्स भानूप्रताप सिंह उर्फ धर्मेंद्र सिंह.
पत्रकार कुणाल सिंह,
पत्रकार देवेंद्र त्रिपाठी,
पत्रकार ओंकार भारद्वाज,
पत्रकार अजमिल विशारद .
इसके अलावा समाजसेवी महेश शर्मा, आश्रम के नलिन जैन और एचसीएफआई के वंदना रावत को भी आरजेएस स्टार का खिताब दिया गया।
कार्यक्रम में एक ऐसे आरजेएस स्टार2017 डीडी न्यूज के संवाददाता धीरज कुमार पधारे ,जिन्हें हाल ही में राष्ट्रपति के हाथों जी डी गोयनका पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।डीडी न्यूज के एंकर सुधांशु रंजन ने इस कार्यक्रम में शाॅल ओढ़ाकर सम्मानित किया।
इस समारोह में आकर कई लोग आरजेएस फैमिली से जुड़े ‌और सकारात्मक भारत आंदोलन के अंतर्गत बैठकें करने की घोषणा की।इनमें प्रमुख हैं——-
प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के प्रवक्ता सुशांत , समाजसेवी चौधरी इंद्रराज सिंह सैनी, शिक्षाविद् नारायण कर्ण,डा.सुनील आर्य,
एचआरए गंधर्व आनंद, मदरलैंड वाॅयस के संपादक संजय उपाध्याय , टीवी 360 के संपादक ‌ अरविंद शर्मा, दिल्ली एक्रेडिटेशन कमिटी के सदस्य अर्जुन जैन,द बुक लाइन के लेखक मेजर प्रदीप खरे और मुकेश भटनागर, विचारक दीदेवार, ग्लोबल पीस फाउंडेशन के परवेज़ अख्तर,गायक सुनील सक्सेना, आकाशवाणी के पूर्व अधिकारी हरिसिंह पाल आदि. इन हस्तियों ने उपस्थित रहकर सकारात्मक भारत आंदोलन को गति दी।
कार्यक्रम के अंत में आरजेएस आॅब्जर्वर दीप माथुर ने सभी का आभार व्यक्त किया और धन्यवाद ज्ञापन करते हुए आरजेएस सकारात्मक बैठकों को और तेज गति से चलाने और 25 की जगह 28 राज्यों‌ तक पहुंचाने का आह्वान किया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY