बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आगे आएं दिघरा युवा समिति के...

बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आगे आएं दिघरा युवा समिति के कार्यकर्ता

530
0
SHARE
बिहार में घातक कोरोना वायरस के साथ-साथ बाढ़ का कहर भी लगातार बढ़ता जा रहा है, जिससे राज्यों के लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा हैं। राज्य में बाढ़ से कई गांव डूब गए हैं, लाखों लोग इससे प्रभावित हुए है। घर डूबे होने के कारण बाढ़ पीड़ित लोग सड़क पर शरण लेने को मजबूर है। वहीं, कई बाढ़ पीड़ितों का आरोप है कि उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में जरूरतमंदों की मदद के लिए  दिघरा युवा समिति के कार्यकर्ता आगे आएं है। दिघरा गांव के युवाओं ने एक समूह बनाकर इस कठिन समय में बाढ़ पीड़ितों की मदद की।
समस्तीपुर जिले के कल्याणपुर गांव में बाढ़ पीड़ितों का बुरा हार है। ऐसे में दिघरा युवा समिति के कार्यकर्ता ने जरूरतमंदों की मदद की, जिसकी स्थानिय लोग खूब सराहना कर रहे हैं। इन युवा कार्यकर्ताओं के समूह ने बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए दवाईयां, भोजन और सार्वजनिक स्थानों की साफ-सफाई की रखरखाव में इनकी मदद की।
दिघरा युवा समिति के कार्यकर्ताओं ने इस मुश्किल खड़ी में करीब 53 परिवारों के लिए खाने का इंतजाम किया। साथ ही उनके लिए दवाईयां समेत अन्य चीजों के लिए भी उनकी मदद की और उन्हें आगे भी ऐसी ही मदद का आश्वासन दिया। बता दें कि, यह कोई पहली बार नहीं है कि दिघरा युवा समिति के कार्यकर्ताओं ने पीडितों की मदद की हो वो अक्सर मुश्किल समय में लोगों की मदद करते रहते हैं।
बता दें कि, बिहार के समस्तीपुर जिले में बागमती नदी उफान पर है। रौद्र रूप दिखा रही बागमती की बाढ़ से कई गांव डूब गए हैं। नदी के जल स्तर में थोड़ी कमी आई है, लेकिन अब भी बागमती खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। घर डूबे होने के कारण बाढ़ पीड़ितों ने मुख्य सड़क पर शरण ली है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY