ग्लोबल फिल्म फ़ेस्टिवल के दूसरे दिन की धमाकेदार हुई शुरूआत, फिल्म इंडस्ट्री...

ग्लोबल फिल्म फ़ेस्टिवल के दूसरे दिन की धमाकेदार हुई शुरूआत, फिल्म इंडस्ट्री पर हुई बात

144
0
SHARE

फिल्म एवं मीडिया जगत के प्रतिष्ठित संस्थान मारवाह स्टूडियो में 13वें ग्लोबल फिल्म फेस्टिबल का आयोजन किया गयाI जिसमें फिल्म इंडस्ट्री की संभावनाओं और इसकी चुनौतियों के बारे में विस्तार से चर्चा की गई, ताकि फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखने वाले छात्र इसकी अपार संभावनाओं का लाभ ले सकें और इसकी चुनौतियों का सामना कर सकें I

13 वें ग्लोबल फिल्म फेस्टिवल नोएडा 2020 के अध्यक्ष डॉ. संदीप मारवाह ने कहा कि “समय के साथ सिनेमा ने कई चुनौतियों का सामना किया है जैसे टीवी कार्यक्रमों की लोकप्रियता, वीडियो डीवीडी की खोज, फिल्मों की चोरी, सिनेमाघरों को बंद करना, इंटरनेट और विदेशी फिल्मों की आसान उपलब्धता आदि परन्तु इन सब बाधाओं के बाद भी आज जनता के लिए मनोरंजन का सबसे लोकप्रिय साधन फिल्म ही है। कोरोना की वैश्विक महामारी फिल्म इंडस्ट्री की कमर तोड़ दी है लेकिन यह फिल्म निर्माताओं का जुनून है जिसने हर विषम परिस्थितियों में फिल्म इंडस्ट्री को जीवित रहने के लिए रक्त दिया है ”

AAFT के पूर्व छात्र फिल्म डायरेक्टर फ़राज़ हैदर ने अपना अनुभव साझा करते हुए बताया कि “सिनेमा की उचित शिक्षा और प्रशिक्षण के बिना किसी को भी फिल्म इंडस्ट्री में प्रवेश नहीं करना चाहिए। क्योकि इससे प्रोडक्शन इंडस्ट्री एवं व्यक्ति के कैरियर दोनों का कीमती समय बर्बाद होगा। इसलिए आगे बढ़ने के लिए उस विषय के बारे में जानकारी होना आवश्यक होता है।

मॉरीशस से आफ्ट के पूर्व छात्र फिल्म निर्देशक सत्येन भर्थ ने कहा की छोटे बजट की फिल्मों और इंडिपेंडेंट फिल्म प्रोडूसर के लिए बजट बहुत बड़ी समस्या होती है, इस वजह से वर्तमान समय में फिल्म बनाना एक बड़ा चुनौतीपूर्ण कार्य है एक एजेंसियों होनी चाहिए जहां हम अपनी फिल्मों के लिए कुछ वित्तीय सहायता ले सकें।

“चीफ क्रिएटिव डायरेक्टर एण्ड दा एफएक्स फैक्ट्री के सीईओ रमेश मीर ने कहा “भारत में पर्याप्त फिल्में बनती हैं लेकिन यहाँ की सबसे बड़ी चुनौती है फिल्मों की मार्केटिंग और बिक्री। भारत विश्व सिनेमा बाजार का केवल 4 प्रतिशत है। 96 प्रतिशत का अभी तक उपयोग नहीं किया गया है। आपको अपनी फिल्मों की बिक्री और प्रदर्शनी के लिए अब अंतर्राष्ट्रीय बाजार को टैप करना होगा, परन्तु यह बहुत मुश्किल कार्य हैI

ICMEI के जनरल सेकेट्री अशोक त्यागी, AAFT की डायरेक्टर अलबीना अब्बास, रेडियो नोएडा 107.4Fm के डायरेक्टर सुशील भारती, AAFT पूर्व छात्र डायरेक्टर मनीष शर्मा, AAFT पूर्व छात्र सिनेमेटोग्राफर ज़हीर नक़वी सहित कई अन्य फिल्म जगत की हस्तियों ने भाग लिया ।
13 वें ग्लोबल फिल्म फेस्टिवल नोएडा 2020 के इस आयोजन को अंतर्राष्ट्रीय फिल्म और टेलीविजन रिसर्च सेंटर, इंटरनेशनल पब्लिक ब्रॉडकास्टिंग फोरम, इंटरनेशनल चिल्ड्रन्स फिल्म फोरम और अंतर्राष्ट्रीय महिला फिल्म फोर के साथ-साथ AAFT यूनिवर्सिटी ऑफ मीडिया एंड आर्ट्स का भी समर्थन प्राप्त हुआ।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY