NCP का दिल्ली में ‘मंथन’ वरिष्ठ नेता प्रफुल्ल पटेल और सांसद सुप्रिया...

NCP का दिल्ली में ‘मंथन’ वरिष्ठ नेता प्रफुल्ल पटेल और सांसद सुप्रिया सुले मौजूद रहे

109
0
SHARE

 

राष्ट्रवादी युवा कांग्रेस एवं राष्ट्रवादी छात्र कांग्रेस की दिल्ली इकाई ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के तत्वाधान में केंद्रीय कार्यालय में मंथन 2021 का आयोजन किया। पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रफुल पटेल और सांसद सुप्रिया सुले ने भी इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस कार्यक्रम में बेरोजगारी, गरीबी किसानों की समस्याओं, केंद्रीय एजेंसियों का बदले की भावना से इस्तेमाल जैसे ज्वलंत मुद्दों पर चर्चा की गई।
इस दौरान ख़ासकर मोदी सरकार और बीजेपी शासित राज्यों में छात्रों और बेरोज़गारी के मुद्दे पर सरकार के ख़िलाफ़ लड़ाई की रूपरेखा पर मंथन हुआ। राष्ट्रवादी युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष धीरज शर्मा ने केंद्र सरकार को घेरते हुए कहा कि इस सरकार के दौर में सबसे ज़्यादा हताशा युवाओं के मन में है, उन्होने कहा कि ज़्यादातर सरकारी विभागों में पद खाली हैं, लेकिन भर्तियां नहीं निकाली जा रहीं, छात्र अपना सबकुछ झोंककर सालों साल तैयारी करते हैं, लेकिन भर्तियां ही नहीं निकलती, इसी इंतज़ार में छात्रों की उमर निकल जाती है। यही नहीं छात्र अपना हक़ मांगने सड़कों पर उतरते हैं तो उन्हे नौकरी की जगह लाठियाँ मिलती हैं। उन्होने कहा कि पार्टी युवाओं, किसानों और मज़दूरों के हक के लिए हर मुमकिन लड़ाई लड़ेगी।

प्रफुल पटेल ने भी केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा, इसके साथ ही उन्होने युवाओं के अनेक सवालों के जवाब भी दिए। प्रफुल पटेल ने कहा कि युवाओं को विदेशी खेलों के पीछे भागने के बजाए देश के राष्ट्रीय खेलों की तरफ़ ज्यादा ध्यान देना चाहिए, ताकि उनके साथ देश भी तरक्की कर सके।
कार्यक्रम के दूसरे सत्र को लोकसभा सांसद सुप्रिया सुले ने संबोधित किया। सुप्रिया सुले ने पेगासस स्पाईवेयर के ज़रिए कथित जासूसी के मुद्दे पर मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा, उन्होने कहा कि केंद्र सरकार विपक्षी नेताओं के फोन में घुस कर जासूसी कर रही है, जबकि निजता का अधिकार देश के हर नागरिक को इस देश का संविधान देता है। सुप्रिया सुले ने अल्टीमेटम देते हुए कहा कि अब NCP ऐसी गलत मानसिकता की सरकार को ज्यादा दिन नहीं टिकने देगी। इस कार्यक्रम में राष्ट्रवादी छात्र काग्रेंस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया दूहन और पार्टी के राष्ट्रीय सचिव के.जे जोसमन भी मौजूद रहे

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY